The Domino Effect | जीवन में कामयाब होने का नायाब तरीका

The domino effect –

दोस्तों आज हम एक ऐसे तरिके के बारे में बात करेंगे जिसको अगर आप अपने जीवन में अपनाते है तो आपका कामयाब होना निश्चित है। इसे हम The domino effect कहते है। इस effect का जिक्र गैरे केलर ने अपनी मशहूर किताब The One Thing में किया है। अगर हम domino effect को अपने जीवन में अप्लाई करते है तो हमे कामयाब होने से कोई नहीं रोक सकता। क्योंकि इससे हमे पता चलता है कैसे हम अपने जीवन में अगर एक छोटी सी चीज पर फोकस करते है तो वह कैसे अपने आप हमारे लिए कामयाबी के रास्ते खोल देती है। गैरे केलर भी अपनी किताब the one thing में यही समझाते है की किसी भी बड़े काम को करना है तो पहले छोटे कामो पर फोकस जरूरी है।

तो आइये दोस्तों हम आज The Domino Effect के बारे में बात करते है।

The Domino Effect क्या है –

1983 में लॉरने व्हिटहेड ने American journal of physics में लिखा की डोमिनो सिर्फ छोटे – छोटे डोमिनोस को गिराने के काम ही नहीं आता बल्कि एक डोमिनो किसी ऐसे दूसरे डोमिनो को गिरा सकता है जो उससे 50 प्रतिशत बड़ा है। और इसी तरह जब हम ऐसे डोमिनोस को लाइन में रखते है। जो की पहले से दूसरा 50 प्रतिशत बड़ा है तो यह एक जियोमेट्रिक प्रोग्रेशन बनती है। तो अगर हम इसी तरह पहला डोमिनो 2 इंच का लेते है और इससे अगला डोमिनो इससे 50 प्रतिशत बड़ा लेते है तो क्या आप अनुमान है की जो 18 वा डोमिनो जो होगा। वो पिसा की मीनार के बराबर होगा। और जो 23 वा डोमिनो होगा वो एफिल टावर जितना लम्बा होगा। और अगर हम 31 वा डोमिनो लेते है तो वह दुनिया की सबसे ऊँची छोटी माउंट एवेरस्ट से भी 3000 फुट ऊँचा होगा। और इतना ही नहीं अगर हम इसी क्रम में 57 वा डोमिनो लेते है तो वह धरती से चाँद की दुरी के बराबर होगा।

तो दोस्तों इसने आपको भी आश्र्यचकित कर दिया होगा। इसी आश्र्यचकित equation को डोमिनो इफ़ेक्ट कहा जाता है।

The Domino Effect का अपने जीवन में प्रयोग कैसे करे –

आपने यह तो देख ही लिया होगा की the domino effect में कितने जादुई परिणाम आते है। ठीक इसी तरह अगर हम भी अपने जीवन में इसी तरह के परिणामो की उम्मीद रखते है तो हम इस इफ़ेक्ट या सिद्धांत को अपने जीवन में प्रयोग कर सकते है। और अगर हम इसको अपने जीवन में प्रयोग करते है तो हमारी कामयाबी निश्चित है। तो अब हम समझते है की इस सिद्धांत को हम अपने जीवन में कैसे प्रयोग कर सकते है।

तो दोस्तों जब आप success के बारे में सोचते हो तो आप लक्ष्य निर्धारित करते है। और उसके लिए अपने जीवन में कुछ deadlines भी निर्धारित करते है। परन्तु कई बार हम ऐसी deadlines निर्धारित कर लेते है जिनको हम पूरा नहीं कर पाते। जिस कारण हमारा हौंसला टूट जाता है। और हम विफल हो जाते है और अपने आप को दोष देने लग जाते है। परन्तु इस विफलता में हमारा कोई दोष नहीं होता। बल्कि हम जो deadlines सेट करते है। वो सही नहीं होती। इसको एक उदाहरण से समझते है जो मेरा खुद का है। मै बचपन से ही एक अच्छी बॉडी बनाना चाहता था। जिसके लिए मै अपने लिए बहुत कठिन deadlines बनाता था। जैसे सुबह 3 बजे उठना, 5 किलोमीटर की दौड़ लगाना , 2 घंटे जिम करना इत्यादि। क्योंकि मै थोड़े समय में ही एक जबरदस्त बॉडी चाहता था। और मै अपने हर प्रयास में विफल जाता था। और सोचने लगा था की मै जिंदगी में कभी अच्छी बॉडी नहीं बना सकता।

परन्तु तभी मैंने डोमिनो इफ़ेक्ट के बारे में पढ़ा। इसके अनुसार आप अपने पुरे लक्ष्य को ध्यान में न रखकर उसको छोटे – छोटे लक्ष्यो में निर्धारित करो। और अपने प्रत्येक लक्ष्य को अपने लिए एक चुनौती की तरह रखे। जिसको पूरा करने के बाद आपके शरीर में एक ऊर्जा का संचार होता है। जिसको हम हौंसला कहते है। जो हमारे अगले लक्ष्य को पूरा करने में हमारी मदद करता है। और हमे ऊर्जा देता है। ठीक उसी तरह से जैसे एक छोटा डोमिनो अपने अगले डोमिनो को गिराने की ऊर्जा रखता है और इसी तरह यह ऊर्जा की chain एक छोटे से डोमिनो होकर सबसे आखिर में रखे एक बहुत बड़े डोमिनो तक पहुंच जाती है। और वह संचारित ऊर्जा उसे गिरा देती है ठीक उसी प्रकार हम अपने द्वारा बनाये गए छोटे – छोटे लक्ष्यों को प्राप्त करने से संचित हुई ऊर्जा के द्वारा हमारे मुख्य लक्ष्य तक आसानी से पहुंच जाते है। और अपना लक्ष्य प्राप्त कर लेते है। इसी को डोमिनो इफ़ेक्ट कहा जाता है। जिसको हम जीवन के हर लक्ष्य को प्राप्त करने में प्रयोग कर सकते है।

और दोस्तों इसी डोमिनो इफ़ेक्ट से मैंने अपने बॉडी बनाने के लक्ष्य को पूरा किया। इसके लिए मैंने पहले छोटे – छोटे लक्ष्य बनाये। जैसे एक महीना मै सिर्फ 5 बजे उठ कर 2 किलोमीटर की सैर करूंगा। अगले महीने जॉगिंग और कुछ देर जिम में बिताऊंगा। और इसी प्रकार मैंने छोटे – छोटे लक्ष्य बनाकर एक छोटे डोमिनो से बड़े डोमिनो को गिराने के जैसे अपने एक लक्ष्य से दूसरे और इसी क्रम में अपने मुख्य लक्ष्य को पूरा किया। और अब मै इस सिद्धांत का प्रयोग अपने जीवन के हर कार्य में करता हु। जिस कारण मै अपने हर कार्य में सफल हो जाता हु। अगर आप भी इस सिद्धांत को अपने जीवन में अपनाते है तो आप जीवन के हर मुश्किल लक्ष्य को प्राप्त कर सकते हो।

दोस्तों डोमिनो सिद्धांत जीवन में एक ऐसा सिद्धांत है जिसके द्वारा हम अपने जीवन के मुश्किल से मुश्किल लक्ष्य को आसानी से पूरा कर सकते है। यह एक प्रकार से सीढ़ियों की तरह है। जैसे हम सीधा पहली सीढ़ी से आखिरी सीढ़ी पर नहीं पहुंच सकते। इसके लिए हमे लगातार सीढ़िया चढ़नी पड़ती है। ठीक उसी प्रकार हम जीवन के प्रत्येक लक्ष्य टुकड़ो में बांटकर dominos की तरह एक सीध में रखकर लगातार छोटे लक्षयों को प्राप्त करके उनसे प्राप्त ऊर्जा से अपने मुख्य लक्ष्य तक पहुंच सकते है।

तो दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आयी हो तो इसको अपने दोस्तों के साथ शेयर करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *